दुनिया के सबसे महान क्रिकेटर्स | World Greatest Cricketers Ever

दोस्तों दुनिया में फुटबॉल के बाद सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाला और खेले जाने वाला खेल क्रिकेट है।

दूसरे देशों के मुकाबले भारत में क्रिकेट प्रेमियों की संख्या आपको और भी ज्यादा देखने को मिलती है। क्योंकि भारत देश में क्रिकेट केवल एक खेल तक सीमित नहीं है बल्कि यह लोगों को आपस में जोड़ता है।

और आज की यह ब्लॉग पोस्ट उन सभी क्रिकेट प्रेमियों के लिए है जो यह जानना चाहते हैं कि क्रिकेट के अब तक के इतिहास में सबसे महान खिलाड़ी कौन हुए हैं?

और दोस्तों यह लिस्ट और भी ज्यादा इंटरेस्टिंग इसलिए बन जाती है क्योंकि इसमें अपने देश के खिलाड़ी शामिल है।
_____________________________

10. महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni)

जी हां दोस्तों भारतीय क्रिकेट टीम के सभी फॉर्मैट्स के Ex-कप्तान और आईपीएल टीम  में चेन्नई सुपर किंग के कप्तान। जो टीम में बतौर कप्तानी, विकेट कीपिंग और बैटिंग करते हुए नजर आते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी जबरदस्त कप्तानी और बैटिंग, कीपरिंग का लोहा उन्होंने सारी दुनिया को मनवाया है।

मैच के दौरान हर भारतीय क्रिकेट फैन को इस बात का विश्वास रहता है कि धोनी है तो मैच हम ही जीतेंगे। आपको बता दूं  की दुनिया में सबसे तेज स्टंपिंग करने का रिकॉर्ड भी एम एस धोनी के नाम ही दर्ज है जो कि केवल 0.08 सेकंड हैं।

और दोस्तों इसी तरीके के अनेकों रिकॉर्ड्स एम एस धोनी के नाम दर्ज है, जिनके बारे में एक ब्लॉग पोस्ट में बता पाना भी संभव नहीं है।

हालांकि आजकल उनके रिटायरमेंट से जुड़ी बातें सुनने को मिलती है इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो केवल एम एस धोनी ही बता सकते हैं।
________________________

09. शेन वार्न (Shane Warne)

दोस्तों शेन वॉर्न अब तक के क्रिकेट इतिहास में सबसे महान स्पिन बॉलर्स में से एक रहे हैं जिसके लिए सन 2000 में उन्हें क्रिकेट एक्सपोर्ट्स के पैनल ने “One of the five Wisden Cricketers of the Century” के लिए चुना।

शेन वॉर्न की बोलिंग में इतनी ज्यादा परफेक्शन होती थी कि किसी खिलाड़ी के लिए उनकी बॉलिंग को समझ पाना काफी ज्यादा कठिन हुआ करता था।

शेन वॉर्न ऑस्ट्रेलियाई टीम की तरफ से खेला करते थे और उन्होंने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी 1992 में। और उन्होंने अपने टेस्ट फॉर इंटरनेशनल वनडे करियर में 1000 विकेट्स ली है। पर यह रिकॉर्ड श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के बाद से अभी भी दूसरे स्थान पर है।
_______________________

08. ब्रायन लारा (Brian Lara)

ब्रायन लारा क्रिकेट जगत के सबसे महान बैट्समैन में से एक हैं और और इन्हें दुनिया के सबसे महान लेफ्ट हैंड बैट्समैन के तौर पर भी जाना जाता है।

ब्रायन लारा वेस्टइंडीज टीम की तरफ से खेला करते थे। और  क्रिकेट जगत में ब्रायन लारा के  नाम अनेकों रिकॉर्ड्स दर्ज है।

जिनमें से फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अकेले ही 501 रन बनाकर नॉटआउट रहने का रिकॉर्ड और इसके साथ ही 2004 में एंटीगा में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट पारी में अकेले ही 400 रन बनाकर नॉटआउट रहने वाले खिलाड़ी का रिकॉर्ड भी ब्रायन लारा के नाम ही दर्ज है।

यह रिकॉर्ड इस बात को दिखाते हैं कि ब्रेन लारा अपने समय के कितने शानदार बैट्समैन थे और इसके अलावा एक और शानदार चीज यह की ब्रेन लारा एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 500 रनों की पारी अकेले ही खेली थी।
______________________

07. मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan)

अपने समय के शानदार बॉलर जिनसे प्रेरणा लेकर आज के बॉलर्स अपने स्किल्स को इंप्रूव करते हैं 2002 में “Wisden Cricketers’ Almanack” ने इन्हें टेस्ट क्रिकेट इतिहास में अब तक का सबसे महान बॉलर बताया है।

22 जुलाई 2010 में Muttiah Muralitharan ने टेस्ट करियर से रिटायरमेंट ले लिया और  साथ  ही में 2010 में उन्होंने अपने टेस्ट कैरियर की 800th विकेट भी ली थी।

मुरलीधरन ने 5 फरवरी 2009 को गौतम गंभीर का विकेट लिया और वसीम अकरम के 501 विकेट के वनडे रिकॉर्ड को पार किया। वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए जब उन्होंने 3 दिसंबर 2007 को शेन वार्न को पछाड़ दिया।

मुरलीधरन ने अपने टेस्ट करियर के 22 मैचों में अकेले ही 22 बार पूरी टीम को ऑल आउट किया था और इसके अलावा अपने ओडीआई करियर में 10 मैचों की हर पारी में अकेले ही 5 विकेटे ली थी।

यह नंबर और रिकॉर्ड्स इस बात को दिखाते हैं कि मुरलीधरन अपने समय के और क्रिकेट इतिहास के सबसे महान खिलाड़ी क्यों हैं।
______________________

06.जैक्स कैलिस (Jacque Kallis)

ऐसा बहुत कम से ही देखने को मिलता है कि किसी ऑलराउंडर के नाम कोई खास रिकॉर्ड्स और इसका एक कारण यह भी है क्योंकि वह ज्यादातर मिडिल ओवर्स में खेलने के लिए आता है जिस वजह से उसे उतना टाइम नहीं मिल पाता है कि वह रिकॉर्ड्स बना पाए।

लेकिन कैलिस ने फिर भी बतौर ऑल राउंडर, क्रिकेट के सबसे  महान all-rounders के साथ-साथ अपना नाम दुनिया के सबसे महान क्रिकेटर की लिस्ट में भी दर्ज कराया है। उनकी मेहनत और उनके रिकॉर्ड इस बात का सबूत है।

कैलिस क्रिकेट जगत के पहले ऐसे क्रिकेटर थे जिन्होंने टेस्ट और वनडे क्रिकेट  में 11,000 रन का आंकड़ा पार किया था हालांकि आज यह रिकॉर्ड काफी सारे महान क्रिकेटर ने ब्रेक कर दिया है लेकिन कैलिस सबसे पहले खिलाड़ी थे जिन्होंने 11,000 रन का आंकड़ा पार किया था।

इसके अलावा कैलिस ने अपने करियर में 200 से ज्यादा विकेट लिए हैं और टेस्ट मैच में 45 सेंचुरी लगाने के बाद से कैलिस टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने वाले दूसरे प्लेयर बने जबकि सचिन तेंदुलकर 1st पोजीशन पर है।
____________________

05.इमरान खान (Imran Khan)

जी हां दोस्तों पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान एक समय में काफी शानदार ऑल राउंडर रह चुके हैं जिस वजह से वह आज के टॉप टेन लिस्ट में भी शामिल है।

इमरान खान नने1992 में बतौर कप्तान वर्ल्ड कप में  पाकिस्तानी टीम का नेतृत्व किया था और टीम वर्ल्ड कप भी जीती थी।

उन्होंने  पाकिस्तान टीम के लिए 1971 से खेलना शुरू किया था और उसके बाद 1982 से लेकर 1992 तक उन्होंने टीम के लिए कप्तानी भी की।

यदि बात करें इमरान खान के करियर के बारे में तो उन्होंने अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में 3807 रन और 262 विकेट लिए हैं इसके अलावा इमरान खान उन 8 खिलाड़ियों में से एक है जिन्होंने टेस्ट मैच में “All-rounder’s Triple” हासिल किया है।
____________________

04. विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards)

दोस्तों Vivian Richards क्रिकेट दशक के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक रहे हैं और ODI format के सबसे महान बल्लेबाजों में से एक रहे हैं।

जिस वजह से दिसंबर 2000 में Wisden ने उन्हें “Greatest ODI batsman of all time” के अवार्ड के लिए चुना और सन 2000 में क्रिकेट फैंस की वोटिंग के अनुसार Vivian Richards दुनिया के 5 सबसे शानदार बैट्समैन में से एक हैं।

जब Vivian Richards, 100-member panel of experts में सर डोनाल्ड ब्रैडमैन, सर गारफील्ड सोबर्स, सर जैक हॉब्स और शेन वार्न के साथ जब नजर आए तो वहां से उन्हें और भी ज्यादा Popularity मिली ।

यदि क्रिकेट फैंस की माने तो सर ब्रैडमैन और सचिन तेंदुलकर के बाद दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज Vivian Richards रहे हैं ।
__________________________

03. गैरी सोबर्स (Gary Sobers)

दोस्तों गैरी सोबर्स का क्रिकेट करियर वाकई में ही लाजवाब रहा है उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की थी बतौर बॉलर और फिर कुछ समय बाद टीम में ज्यादातर बैटिंग करते हुए नजर आए।

क्रिकेट जगत में इनके शानदार परफॉर्मेंस के लिए इन्हें दुनिया के सबसे महान all-rounders में से एक माना जाता है। और 1958 में Sobers ने पाकिस्तान के खिलाफ अपनी maiden Test century दर्ज की।

जिसमें उस दिन उन्होंने अकेले ही 365 रनों की नॉट आउट पारी खेली थी और इसके साथ उन्होंने किसी अकेले खिलाड़ी द्वारा सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी बनाया था।

हालांकि 1994 में ब्रेन लारा ने 375 रनों की पारी खेलते हुए इस रिकॉर्ड को ब्रेक किया। लेकिन ऐसे ही अनेकों रिकॉर्ड और इनिंग्स Sobers को दुनिया के सबसे महान खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल रखती है।
________________________

02. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)

जी हां दोस्तों क्रिकेट के भगवान और मास्टर ब्लास्टर कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर क्रिकेट जगत के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक रहे हैं उनके रिकॉर्ड्स, उनकी बैटिंग और उनके नेचर ने लोगों के दिलों को काफी गहराई से छुआ है।

और आज के तारीख में हर युवा क्रिकेटर उनके बनाए हुए रिकॉर्ड को चेस करता हुआ नजर आता है  सचिन तेंदुलकर एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने वर्ल्ड कप में दो हजार से ज्यादा रनों को बनाया है।

मात्र 19 वर्ष की आयु में सचिन तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। तब से उन्होंने इतने रिकॉर्ड्स बनाएं जिस वजह से क्रिकेट इतिहास में हर रिकॉर्ड में उनका नाम शामिल है।

दोस्तों सचिन तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट करियर में सौ बार शतक लगाएं जो कि आज तक के इतिहास में किसी प्लेयर के द्वारा लगाए गए सबसे ज्यादा शतक हैं।

और इसी तरीके से उनके रिकॉर्ड्स की लाइन बहुत लंबी है जो एक ब्लॉग पोस्ट में कवर कर पाना भी मुश्किल है।
_________________________

01. सर डॉन ब्रैडमैन (Sir Don Bradman)

सर डॉन ब्रैडमैन ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर थे। जिनको टेस्ट सीरीज का सबसे महान बल्लेबाज कहा जाता है और उनके टेस्ट क्रिकेट करियर का बैटिंग एवरेज 99.94 रहता था। जोकि किसी भी खिलाड़ी के लिए अचीव करना बहुत बड़ी बात है।

डॉन ब्रैडमैन ने अपने करियर के दौरान 20 सालों तक लगातार एक हि लेवल पर स्कोर बनाते चले गए थे।  और इसीलिए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ने उन्हें “worth three batsmen to Australia” भी कहा।

उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में अनेकों रिकॉर्ड्स बनाएं और उनमें से एक रिकॉर्ड जो कि दुनिया में सबसे फास्टेस्ट सेंचुरी बनाने का रिकॉर्ड उनके नाम दर्ज है

जोकि सर डॉन ब्रैडमैन ने केवल 22 बॉल में पूरा किया था। यह रिकार्ड आज तक सर डॉन ब्रैडमैन के नाम ही दर्ज है।
_________________________

तो दोस्ती यही हैं दुनिया के सबसे महान क्रिकेटर, इसके अलावा भी क्रिकेट जगत में काफी सारे महान क्रिकेटर्स हुए हैं जैसे कि Rahul Dravid, Adam Gilchrist, Kumar Sangakkara, and Rickey Ponting और यह सभी भी बेशक इस लिस्ट मैं शामिल होने के हकदार हैं।

दोस्त मैं उम्मीद करता हूं कि आपको ब्लॉग पोस्ट से काफी कुछ नया जानने और सीखने को मिला होगा, आप अपने सुझाव कमेंट में जरूर से साझा करें और अपने मित्रों के संग इस ब्लॉग पोस्ट को शेयर करके हमारे काम की तारीफ कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *