Graduation और Post-Graduation क्या होता है? | What is Graduation and Post-Graduation?

दोस्तों आज भी मुझे वह दिन याद है जब मैं ग्रेजुएशन क्या है? और पोस्ट ग्रेजुएशन क्या होता है? इन सभी चीजों में उलझा रहता था और हमेशा से ही इसके बारे में जानने का इच्छुक भी रहता था।
 
और आज मुझे इस सवाल का जवाब मालूम है तो मैंने सोचा क्यों ना मैं इसका जवाब उन लोगों के साथ शेयर करूं जो अभी भी इन चीजों से अनजान है।
 
दोस्तों बेहतर कैरियर के लिए हर विद्यार्थी को ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन जैसी चीजों के बारे में पता होना बहुत ज्यादा जरूरी होता है।
 
तो आइए दोस्तों इन सभी चीजों के बारे में विस्तार से जान लेते हैं हैं:

ग्रेजुएशन क्या होता है?

दोस्तों अगर मैं, आपको बिल्कुल आसान भाषा में ग्रेजुएशन के बारे में बताऊं तो, 12वीं क्लास के बाद 3,4 या  5 साल के बैचलर डिग्री कोर्स को ही ग्रेजुएशन कहा जाता है। और दोस्तों ग्रेजुएशन का शुद्ध हिंदी में meaning स्नातक होता है।
जैसे ― B.A, B.com, BBA, BSC, BCA, BSW इत्यादि यह सभी बैचलर डिग्री कोर्स है।

ग्रेजुएशन कैसे करें?

आप ग्रेजुएशन किसी भी विश्वविद्यालय या कॉलेज से कर सकते हैं अपने भारत देश में अनेकों विश्वविद्यालय लगभग हर राज्य और हर जिले में उपलब्ध है।
आप अपनी सुविधा के अनुसार कॉलेज या विश्वविद्यालय चुन सकते हैं अपने ग्रेजुएशन अर्थात बैचलर की डिग्री को करने के लिए।

ग्रेजुएट होना क्यों जरूरी है?

अब यह सवाल भी काफी सारे लोगों के मन में आता है ग्रेजुएट होना क्यों जरूरी है इसके काफी सारे कारण हो सकते हैं।
 
और दोस्तों उनमें से सबसे मुख्य कारणों में से एक है कि आपका शिक्षा का Level और भी ज्यादा बढ़ जाता है जो आपके लिए Future  में अनेकों Opportunity लेकर आता है।
 
आज की तारीख में शिक्षा का महत्व कितना अधिक है इस बात से कोई भी अनजान नहीं है और और साथ इस बात में भी कोई शक नहीं है कि एक अच्छी शिक्षा भविष्य मे आपके लिए सफलता के रास्ते को खोलती हैं।
 
इसके अलावा भारत देश में ग्रेजुएट व्यक्ति के लिए काफी अच्छी सरकारी जॉब्स भी मिलने की संभावना बढ़ जाती है।
मुझे विश्वास है कि अब आप को यह मालूम चल गया होगा कि ग्रेजुएट होना क्यों जरूरी है, और साथ ही में शिक्षा हमारे भविष्य के लिए कितनी महत्वपूर्ण है।

पोस्ट-ग्रेजुएशन क्या होता है?

जब कभी भी ग्रेजुएशन के बारे में बात होती है तो कहीं ना कहीं यह शब्द भी सुनने को मिलता है कि आप इसके बाद पोस्ट-ग्रेजुएशन भी कर सकते हैं।
 
इसके साथ ही शब्द हमारे मन में एक सवाल भी लेकर आता है कि आखिर यह पोस्ट-ग्रेजुएशन क्या होता है?
 
दोस्तों पोस्ट-ग्रेजुएशन, ग्रेजुएशन के बाद की जाने वाली Speclization डिग्री होती है पोस्ट-ग्रेजुएशन में सभी विषयों पर पढ़ाने की बजाएं, किसी एक विषय की हर एक बारीकी को बताया या समझाया जाता है।
 
आइए मैं आपको इसे एक उदाहरण से समझाता हूं।
 
उदाहरण: अक्सर आपने सुना होगा कि, यह डॉ हड्डियों का स्पेशलिस्ट है या फिर यह व्यक्ति सर्जरी स्पेशलिस्ट है इसी तरह स्पेशलाइजेशन को हासिल करने के लिए किसी भी विषय में ग्रेजुएशन करने के बाद पोस्ट-ग्रेजुएशन की जाती है। B.tech के बाद M.tech पोस्ट-ग्रेजुएशन का एक उदाहरण है।

ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में क्या अंतर है?

जैसे कि मैंने आप सभी को पहले ही बता दिया कि ग्रेजुएशन क्या होता है और पोस्ट-ग्रेजुएशन क्या होता है उसके साथ ही मैंने यह भी बताया कि आपको ग्रेजुएशन करना क्यों जरूरी होता है।
 
लेकिन फिर भी काफी सारे लोग यह जानना चाहते हैं कि ग्रेजुएशन और पोस्ट-ग्रेजुएशन में क्या अंतर होता है।
 
तो दोस्तों इस सवाल का जवाब और इन दोनों के बीच का अंतर काफी ज्यादा सरल है।
 
12वीं के बाद आप जिस बैचलर डिग्री कोर्स को करते हैं उसे ग्रेजुएशन कहते हैं चाहे वह B.A हो या फिर B.com । लेकिन अगर आप B.com या B.A के किसी सब्जेक्ट में महारत हासिल करना चाहते हैं तो आपको पोस्ट-ग्रेजुएशन करना होगा।
 
पर यदि आप ग्रेजुएशन के बाद किसी भी एक विषय पर पोस्ट-ग्रेजुएशन करते हैं तो यह आपके करियर के लिए भी अनेकों options स्कोर खोल देता है।
 
जैसे ― किसी सरकारी जॉब में उच्च पद पद पर सिलेक्शन या फिर किसी भी प्राइवेट कंपनी में भी उच्च पद के दावेदार बन जाते हैं।

Graduation Based Govt Jobs

दोस्तों मैंने यह लिखा तो इंग्लिश में है लेकिन अगर हिंदी में इसके मतलब बताऊं तो। इसका अर्थ है कि ग्रेजुएशन करने के बाद से आप किन-किन सरकारी नौकरी के लिए तैयारी कर सकते हैं या फिर किन-किन सरकारी नौकरी को पाने के आप दावेदार बन जाते हैं।
 
यदि आप ग्रेजुएशन कंप्लीट कर लेते हैं उसके बाद से आप UPSC, SSC जैसी अनेकों उच्च पद वाली नौकरियों की तैयारी कर सकते हैं। और आपकी शिक्षा और Experience के बढ़ने के साथ-साथ आपका Level भी बढ़ता चला जाता है।

Conclusion

दोस्तों नेल्सन मंडेला जी ने कहा है की, “दुनिया को बदलने के लिए सबसे ताकतवर हथियार शिक्षा ही है।” 
 
और इस बात में भी कोई दोहराई नहीं कि शिक्षा का महत्व शुरुआत से ही सबसे ज्यादा रहा है और हमेशा रहेगा। शिक्षा हमें हमेशा एक अच्छा नागरिक और एक अच्छा इंसान बनने में मदद करती रही है। 
तो आप जितना अधिक से अधिक ज्ञान प्राप्त कर सकें, एक सफल और समृद्ध जीवन के लिए उतना ही बेहतर है। 
 
दोस्तों मैं उम्मीद करता हूं कि मैंने ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन से जुड़े आपके मन में आ रहे प्रश्नों का उत्तर इस ब्लॉग पोस्ट में दे दिया होगा।
 
लेकिन यदि आपको अभी भी लगता है की ग्रेजुएशन या फिर पोस्ट ग्रेजुएशन से जुड़ा आपके मन में कोई भी सवाल है तो जरूर से आप उसे कमेंट में पूछिएगा। मैं जरूर से उसका जवाब देने की कोशिश करूंगा।

2 Comments on “Graduation और Post-Graduation क्या होता है? | What is Graduation and Post-Graduation?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *